Latest news

वडाला गांव में अनाथ बहनों के लिए जानवर बने रिश्तेदार, खाली पेट रखकर करते थे पिटाई

In Wadala village, relatives of orphans became orphans, or used to be beaten by empty stomachs
चाइल्ड लाइन पर कॉल आने से हुआ खुलासा, टीम ने बच्चियों को किया रेस्क्यू
जालंधर :
वडाला गांव में इंसानियत को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। गांव के सरकारी स्कूल में रहने वाली दो बच्चियों के साथ उनके रिश्तेदारों द्वारा मारपीट करने, भूखे रखने व और अन्य कई प्रकार के अत्याचार करने का मामला सामने आया है। मामले का खुलासा चाइल्ड लाइन को आई कॉल के बाद हुआ। गत दिवस चाइल्ड लाइन 1098 पर वडाला गांव से आई थी। कॉल को फॉलो करते हुए चाइल्ड लाइन की तरफ से कविता शर्मा व जसलीन मैडम स्कूल पहुंचे। वहां जाकर दोनों ने स्कूल के बच्चों से बात की। जांच के बाद दोनों बच्चियों जिनमें से एक की उम्र 15 साल और एक की उम्र 14 साल है, चाइल्ड हेल्पलाइन की टीम ने रेस्क्यू किया। बच्चियों की हालत देखकर लगता था कि इन पर काफी अत्याचार हुए हैं। आज दोनों बच्चियों को चाइल्ड लाइन की टीम ने कपूरथला चौक स्थित बाल विकास कमेटी के समक्ष पेश किया। बच्चियों को नारी निकेतन के हवाले कर दिया गया है। दोनों बच्चियों के माता-पिता की मौत हो चुकी है और उनके ताया अमेरिका में रहते हैं। ताया ने ही बच्चियों को किसी रिश्तेदार के पास ठहराया हुआ था और वे खर्चा भी भेजता था। बताया जाता है कि जिस मामा व मामी ने बच्चियों पर अत्याचार किए वे वडाला में सैलून चलाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *