Latest news

क्या देश में 57% डॉक्टर्स फर्जी चौंकाने वाले सच को सरकार ने माना ?

Is 57% of doctors in the country considered fake, shocking truth by the government?

 

क्या हमारे देश में एलोपैथी की प्रैक्टिस कर रहे ज्यादातर डॉक्टर नकली हैं? वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) की रिपोर्ट तो यही कहती है और अब सरकार ने भी इस चौंकाने वाले सच को माना है।

वर्ष 2016 में भारत के स्वास्थ्य कर्मियों पर डब्ल्यूएचओ की एक रिपोर्ट आई थी। इसमें कहा गया था कि देश में जितने डॉक्टर्स एलोपैथिक मेडिसिन की प्रैक्टिस कर रहे हैं, उनमें से 57.3 फीसदी के पास कोई मेडिकल क्वालिफिकेशन है ही नहीं।

तब सरकार ने इस बात को मानने से इनकार कर दिया था। जनवरी 2018 में लोकसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने इस रिपोर्ट को बकवास करार दिया था। लेकिन अब उसी स्वास्थ्य मंत्रालय से इस आंकड़े को औपचारिक तौर पर सही बताया गया है।

अब क्यों सरकार मान रही है WHO की वो रिपोर्ट?

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *