दुबई के शहर अजमान एक कम्पनी में फसे चार नौजवान जसविंदर सिंह,बलबीर सिंह,अमनदीप सिंह व सन्नी ने एक वीडियो शोशल मिडिया पर  कुछ दिन पहले वायरल किया था जिस में उनोने एजेंट सूखा जो बेहरामपुर ख़याला का है पर आरोप लगाया था की उसने चारो नोजवानो से 75 ,75 हज़ार रुपए लेकर उनको यह कहकर दुबई भेजा यहाँ उनको दो बर्ष का वर्क वीजा मिलेगा लेकिन उल्टा उनको टूरिस्ट विजे पर दुबई भेज जो काम उनको कह कर भेजा गया था की वो वह रंग का कार्य करेंगे उलटा उनको दीवारों की रगड़ाई पर लगा दिया जिसके बाद न तो उनको तीन माह से वेतन दिया जा रहा है और बंधक बना कमरे में रखा  गया है जिसके के बाद विडिओ सोशल मिडिया पर देख दुबई में भारत की एक संस्था जो मानव अधिकारों के लिए काम करती है उसकी अध्यक्ष अमरजोत कोर रामूवालिया ने संघयण लेते हुए कम्पनी से दो नोजवानो को छुडवा भारत भेजा,,  यहां घर पहुंचे जसविंदर सिंह बलबीर सिंह ने बताया की वो अपने घर की गरीबी ख़तम करने के लिए दुबई गए थे यहाँ उल्टा उनको कम्पनी ने ना तो उनको कोई वेतन दिया और उल्टा एक कमरे में बंद कर बंधी बना जबरदस्ती काम करवाया गया जिसके बाद आज वो शोशल मिडिया और बीबी अमरजोत कोर रामूवालिया के प्रयासों से भारत पहुंचे है

ਦੁਬਈ ਦੀ ਕੰਪਨੀ ‘ਚੋਂ ਛੁੱਟ ਕੇ ਆਏ ਪੰਜਾਬੀ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਦੀ ਸੁਣੋ ਦਰਦ ਭਰੀ ਪੁਕਾਰ
Punjabi youth heard shouting from Dubai company

Post Views: 176