Latest news

Glime India News

दोआबा के 10,000 व्यापारियों को लाभ देने के लिए वैट के बकाए के लिए ओ.टी.एस. स्कीम, 50 करोड़ रुपए मुआफ किये जाएंगे: कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा

जालंधर (एस के वर्मा ): पंजाब के उद्योग और वाणिज्य कर मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा ने उद्यमियों को अति-अपेक्षित राहत देने के लिए ‘वैट के बकाए के लिए ओटीएस स्कीम ’ की शुरुआत को ऐतिहासिक कदम करार देते हुए कहा कि इस योजना के साथ प्रदेश के दोआबा क्षेत्र के तकरीबन 10,000 छोटे और मध्यम दर्जे के कारोबारियों को लाभ मिलेगा। स्कीम के वर्चुअल आग़ाज़ में हिस्सा लेते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि जालंधर, कपूरथला, होशियारपुर और एसबीएस नगर के लगभग 10,000 व्यापारियों को कवर किया जायेगा और स्कीम के नियमों अनुसार 50 करोड़ रुपए का बकाया माफ किया जायेगा। इस मौके उनके साथ विधायक रजिन्दर बेरी, सुशील कुमार रिंकू और अवतार सिंह जूनियर बावा हेनरी, मेयर जगदीश राज राजा और डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि यह स्कीम पंजाब के उद्योगपतियों की तरफ से उठाए गए सी-फार्म की अनउपलब्धता के लम्बे समय से लटक रहे मसले का हल करेगी। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि ओटीएस स्कीम के साथ कारोबारी भाईचारे को सुविधा मिलेगी, जिनको सी-फार्मों कारण मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था।उन्होंने आगे कहा कि राज्य के 17 फोकल प्वाइंटों में बेमिसाल बुनियादी ढांचे के विकास को यकीनी बनाने के लिए राज्य सरकार की तरफ से विकास कार्यों के लिए 146 करोड़ जारी किये गए हैं।उद्योगों को राज्य की आर्थिकता की रीढ़ की हड्डी करार देते हुए उद्योग मंत्री ने कहा कि उद्योगपतियों की हर समस्या को पहल के आधार पर हल किया जायेगा।अरोड़ा ने कहा कि पंजाब सरकार उद्योगों के सर्वपक्षीय विकास को यकीनी बनाने के लिए वचनबद्ध है और पिछले चार सालों में पंजाब ने 71000 करोड़ रुपए का निवेश आकर्षित किया है और 2.70 लाख नौकरियाँ पैदा की हैं।मंत्री ने कहा कि जब से कैप्टन सरकार ने राज्य की बागदौड़ संभाली है, तब से उद्योगों की हर समस्या का हल हो रहा है। उन्होंने कहा कि राज सरकार की तरफ से साल 2017 में बनाई गई औद्योगिक नीति राज्य में उद्योग को प्रोत्साहित करने में सहायक रही है और उद्योगों को फिर जीवित करने में मददगार साबित हुई है। विधायक रजिन्दर बेरी, सुशील कुमार रिंकू, अवतार सिंह जूनियर बावा हेनरी ने इस नीति का स्वागत करते हुए कहा कि पंजाब की आर्थिकता को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह उद्योगपतियों के साथ चट्टान की तरह खड़े हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पैंडिंग बकाए का निपटारा करने के लिए इस स्कीम को लाकर उद्योगपतियों के साथ अपने वायदे को पूरा किया है वीडियो कान्फ़्रेंस में हिस्सा लेने वाले व्यापारियों और उद्यमियों ने ओटीएस नीति की प्रशंसा की और उनकी काफी देर से लंबित मांग को पूरा करने के लिए पंजाब सरकार का धन्यवाद किया।इस मौके डिप्टी टैक्सेशन कमिश्नर, जालंधर डिविज़न परमजीत सिंह, सहायक कर कमिश्नर कंवलजीत सिंह और अन्य मौजूद थे।