Latest news

Glime India News

शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला ने जालंधर के विद्यार्थियों को इनाम के तौर पर दिए एपल आईपैड, लैपटॉप और एंड्रॉयड टैबलेट

जालंधर (एस के वर्मा ): स्कूल शिक्षा मंत्री पंजाब विजय इंद्र सिंगला ने शुक्रवार को ‘अम्बैसेडर्ज आफ होप ’ मुकाबलों के जालंधर जिले के विजेताओं का एपल आईपैड, लैपटॉप और एंड्रोयड टेबलेट से सम्मानित किया। कोविड -19 की महामारी के मद्देनज़र पी.ए.पी. जालंधर में करवाए गए एक संक्षिप्त समागम के दौरान कैबिनेट मंत्री विजय इंद्र सिंगला ने विशेष तौर पर पुरस्कार वितरण समारोह में शिरकत की। सिंगला ने विजेताओं को बधाई देने के साथ-साथ विद्यार्थियों को अपनी मंजिल प्राप्त करने के लिए भविष्य में भी हर संभव सहायता देने का विश्वाश दिया। कि विश्व रिकार्ड स्थापित करने वाले ‘अम्बैसेडर्ज ऑफ होप ’ मुकाबले में जालंधर जिले में 6,180 विद्यार्थियों ने अपने पसन्दीदा विषयों पर वीडियो बनाकर अपनी दावेदारी पेश की थी। इनमें से ए.पी.जे. स्कूल के 10वीं कक्षा में पढ़ते गोपेश गुप्ता ने पहला इनाम एपल आईपैड जीता था जबकि एम.जी.एन. पब्लिक स्कूल अर्बन एस्टेट में 8वीं कक्षा में पढ़ती रमनदीप कौर ने दूसरा स्थान प्राप्त करके लैपटॉप जीता था। इसी तरह आर.के. एम.जी.एम. सीनियर सेकंडरी स्कूल में 10वीं कक्षा में पढ़ती मोना कश्यप ने तीसरे इनाम के तौर पर एंड्रायड टेबलेट पर कब्ज़ा किया। इनाम प्राप्त करने के बाद विजेताओं ने विजय इंद्र सिंगला का लॉकडाउन दौरान ऐसा दिलचस्प ऑनलाईन मुकाबला करवाने के लिए बहुत उत्सुकता से धन्यवाद किया। समागम के दौरान बोलते विजय इंद्र सिंगला ने कहा कि विश्व रिकार्ड स्थापित करने के साथ-साथ ‘अम्बैसडरज़ ऑफ होप ’ मुहिम ने स्कूली विद्यार्थियों के कौशल को निखारने के अपने उदेश्य को सफलतापूर्वक पूरा किया है। उन्होंने बताया कि सिर्फ़ 8 दिनों में ही इस मुकाबले के लिए 1,05,898 स्कूली विद्यार्थियों ने अपनी दावेदारी पेश की थी। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में प्राप्त हुई वीड्योज़ में से विजेताओं का चयन करना बहुत कठिन था परन्तु यह काम बहुत पारदर्शी ढंग से किया गया है। उन्होंने कहा कि हर जिले में 3 विजेताओं को आईपैड, लैपटॉप और टेबलेट देने से साथ-साथ सभी 22 जिलों में से और अच्छी वीड्योज़ भेजने वाले लगभग 1,000 विद्यार्थियों को भी सम्मानित किया गया है। इस अवसर पर पहला स्थान प्राप्त करने वाले गोपेश ने बताया कि वह बहुत लगन से इनाम मिलने का इंतज़ार कर रहा था और स्कूल शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला के हाथों इनाम मिलने पर यह दिन उसके लिए स्मरणीय बन गया है। इस तरह तीसरा स्थान हासिल करने वाली मोना कश्यप ने कहा कि पारिवारिक दिक्कतों के कारण उसको अपनी पढ़ाई से सम्बन्धित सपने पूरे करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था परन्तु इनाम में एंड्रायड पैड मिलने पर उसको काफ़ी सहायता मिली है। उसने कहा कि मुकाबला जीतकर उसका उत्साह बहुत बढ़ा है और अब वह अपनी मंजिल पर पहुँचने के लिए और ज्यादा मेहनत करेगी।

Leave a Comment